Saturday, February 6, 2016

ऐसे हस्ताक्षर वालों को जीवन में जल्दी मिलती है सफलता


signature styles of success people • हस्ताक्षर करने के बाद नीचे दो लाइन खींचकर दो बिंदु लगाने वाले लोग जल्द सफल होते हैं। ये समाज में बहुत नाम कमाते हैं और इतिहास में इनका नाम दर्ज होता है। • अस्पष्ट और जल्दी जल्दी में किए गए हस्ताक्षर बताते हैं कि व्यक्ति में महत्वकांक्षा ज्यादा है और वो ऊंचाई पर जल्द पहुंचना चाहता है। ऐसे लोग अपने काम के लिए धोखा देने से नहीं चूकते। • कलम पर जोर देकर या कागज पर गड़ा गड़ा कर हस्ताक्षर करने वाले भावुक किस्म के होते हैं लेकिन इन पर अक्सर हठ हावी रहती है। हालांकि ये स्पष्टवादी होते हैं लेकिन ये किसी बात के लिए सफाई देने में परहेज करते हैं। • अगर कोई व्यक्ति हस्ताक्षर करते समय अपने नाम के बीच में अवरोधक चिह्न लगा रहा है तो समझिए वो हीन भावना का शिकार है। ऐसे लोग हर कामकाज में सामाजिकता व नैतिकता की दुहाई देते फिरते हैं। • हस्ताक्षर के आखिर में डॉट या डैश लगाते हैं वह स्वभाव डरपोक, शर्मीले और शक्की प्रवृत्ति के होते हैं। ये अपने दोस्तों पर भी आसानी से भरोसा नहीं करते। • बहुत छोटे, तोड़ मरोड़ कर किए गए अस्पष्ट हस्ताक्षर करने वाला धूर्त और चालाक प्रवृत्ति का स्वामी होता है। ऐसे लोग समाज में अपने फायदे के लिए किसी का भी नुकसान करने से परहेज नहीं करते। ऐसे लोग फायदे के लिए दोस्तों तक को दगा दे देते हैं। • हस्ताक्षर के नीचे दो लकीरें खींचने वाले लोग भावुक होने के साथ साथ विपरीत परिस्थितियों में बजपन गुजार चुके होते हैं। इनका बचपन बुरा बीता हो या पढ़ाई पूरी न पाए हों। इनके भीतर असुरक्षा की भावना होती है और ये स्वभाव से कंजूस होते हैं। • जो लोग हस्ताक्षर में नाम का पहला अक्षर लिखने के बाद पूरा उपनाम लिखते हैं वो सरल व्यवहार के होते हैं। ये काफी व्यवहार कुशल होते हैं और समाज में मेलजोल से रहते हैं। • हस्ताक्षर के अंतिम शब्द की लकीर या मात्रा को ऊपर की ओर खींचकर ले जाने वाले लोग साफ दिल के होते हैं भी होते हैं। ऐसे लोग समाज में मिलनसार, मृदुभाषी होते हैं। • जिन लोगों के हस्ताक्षर नीचे से ऊपर की तरफ जाते हैं, उनका स्वभाव महत्वाकांक्षी तथा उत्साही होता है। यह व्यक्ति समाज में अच्चा खासा ओहदा प्राप्त करते हैं और जिस काम को करते हैं उसमें सफलता प्राप्त करते हैं। • वहीं जिनके हस्ताक्षर ऊपर से नीचे की ओर जाते हैं वो नकारात्मक विचारों वाले होते हैं। ये समाज में घुल मिल कर नहीं रहते और इनकी दोस्ती का दायरा भी सीमित होता है। • कलम को बिना उठाए पूरा हस्ताक्षर करने वाले लोग रहस्यमयी प्रवृत्ति के होते हैं। ये स्वभाव से चुगलखोर और कंजूस होते हैं। ये व्यवहारिक नहीं होते लेकिन इनकी महत्वकांक्षा काफी बड़ी होती है।

जाने सैकड़ो रोगों का इलाज !

सहजन पेड़ मनुष्य के लिए किसी संजीवनी बूटी से कम नहीं दुनीया का सबसे ताकतवर पोषण पुरक आहार है सहजन (मुनगा) 300 से अधि्क रोगो मे बहोत फा...