Skip to main content

Posts

Showing posts from August, 2017

जाने सैकड़ो रोगों का इलाज !

सहजन पेड़ मनुष्य के लिए किसी संजीवनी बूटी से कम नहीं
दुनीया का सबसे ताकतवर पोषण पुरक आहार है सहजन (मुनगा) 300 से अधि्क रोगो मे बहोत फायदेमंद इसकी जड़ से लेकर फुल, पत्ती, फल्ली, तना, गोन्द हर चीज़ उपयोगी होती है आयुर्वेद में सहजन से तीन सौ रोगों का उपचार संभव है
सहजन के पौष्टिक गुणों की तुलना ?-विटामिन सी- संतरे से सात गुना
?-विटामिन ए- गाजर से दस गुना
?-कैलशियम- दूध से सत्रह गुना
?-पोटेशियम- केले से पन्द्रह गुना
? प्रोटीन- दही की तुलना में तीन गुना
स्वास्थ्य के हिसाब से इसकी फली, हरी और सूखी पत्तियों में कार्बोहाइड्रेट , प्रोटीन , कैल्शियम , पोटेशियम, आयरन, मैग्नीशियम,विटामिन-ए , सी और बी-काम्प्लेक्स प्रचुर मात्रा में पाई जाती है इनका सेवन कर कई बीमारियों को बढ़ने से रोका जा सकता है, इसका बॉटेनिकल नाम ‘ मोरिगा ओलिफेरा ‘ है हिंदी में इसे सहजना , सुजना , सेंजन और मुनगा नाम से भी जानते हैं.जो लोग इसके बारे में जानते हैं , वे इसका सेवन जरूर करते हैं, सहजन में दूध की तुलना में चार गुना कैल्शियम और दोगुना प्रोटीन पाया जाता है. ये हैं सहजन के औषधीय गुण सहजन का फूल पेट और कफ रोगों में

भविष्यवानियाँ

गर्भ में लड़का या लड़की – सदियों पहले बताये गए ये राज़
आज भारत में हर महिला ये जानना चाहती है के उसके पेट में पल रही संतान लड़का है या लड़की, ऐसे में विज्ञान ने नयी नयी तकनीक हासिल की, जिस से पता चला के गर्भ में पल रहा बच्चा लड़का है या लड़की, मगर भारतीय इतिहास में सदियों से ही इसके बारे में सिर्फ कुछ लक्षणों को देख कर बता दिया जाता था के गर्भस्थ शिशु लड़का है या लड़की, और उस समय गर्भ के लिए की गयी ये भविष्यवानियाँ कभी गलत साबित नहीं हुयी. garbh me kya hai, kaise pata kare ke garbh me ladka hai ya ladki आज हम आपको वही कुछ बताने जा रहें हैं. एक महिला के लिए मां बनना किसी ख़ूबसूरत अनुभव से कम नहीं होता। संतान का सुख हर किसी के लिए दुनिया का सबसे खूबसूरत एहसास होता है। हालांकि कुछ लोग इस ख़ुशी से वंचित भी रह जाते हैं। पर जिन्हें ये सुख मिलता है उन्हें दुनिया की सारी खुशियाँ फीकी नज़र आती हैं। वैसे बच्चा पैदा होने से पहले हर किसी के मन में ये बात उछल कूद मचाती रहती है कि गर्भ में लड़का या लड़की है। गर्भ में पल रहे भ्रूण की पहचान कर पाना नामुमकिन सा काम होता है। लेकिन कुछ तजुर्बे ऐसे हैं जिनका संकेत देख …

घरेलु मसालों के अद्भुत लाभ , समयपूर्ण उपयोग और समुचित फायदे

एक चुटकी अजवाइन करेगी कई बीमारियों को छूमंतर, जरा खाकर तो देखिएमौसमबदलने का सबसे ज्यादा असर हमारीसेहतपर ही पड़ता है। लोग अक्सर कुछ न कुछ ऐसी चीजें खा लेते हैं जो उनकीतबियतकोखराब कर देती है और ज्यादा समय डॉक्टर के चक्कर काटने में ही निकल जाताहै। लेकिन आज हम आपको आपके किचन में मौजूद एक ऐसी खास चीज के फायदे बताएंगेजिसका इस्तेमाल ज्यादातर लोग खाना बनाने में करते हैं।1.सर्दी जुकाम को जड़ से खत्म करना
सर्दी जुकाम एक आम समस्या है। इसमें अजवाइन को सूंघना जुकाम से जल्द राहतदिला सकता है। इसके लिए बस आप थोड़ी सी अजवाइन को कूट लें और फिर किसीकपड़े में बांधकर सूंघे। ऐसा करने पर आपको राहत मिलेगी। वहीं ठंड लगने परइसे चबाने के बाद निगल लें ऐसा करने पर सर्दी कम लगेगी।2.वजन करेगी कम
एक चम्मच अजवाइन आपके वजन को भी कम करने में कारगर साबित होती है। रात मेंएक चम्मच अजवाइन को एक गिलास पानी में भिगो दें। सुबह होने पर इस पानी कोछानें और उसमें शहद मिलाकर पिए ऐसा करने पर वजन कम होता है।3.पेट खराब होने पर
पेट खराब में भी अजवाइन फायदेमंद साबित होती है। अजवाइन को चबाने के बादउसके ऊपर गर्म पानी पिए। इसके साथ आप काला न…